प्यासा कौवा – pyasa kauwa


 प्यासा कौआ की कहानी

एक दिन की बात हैं। एक कौवा था, वो बहुत ही प्यासा था। वह पानी की तलाश में इधर – उधर भटक रहा था।
लेकिन उसे कहीं पानी नजर नहीं आ रहा था, बहुत देर खोजने के बाद उसे एक घड़ा दिखाई दिया।
कौए ने पास जाकर देखा तो घड़ा में बहुत कम पानी था,  कौए का चोंच वहाँ नहीं पहुँच सकती थी।

pyasa kauwa
प्यास कौवा
फिर कौए ने एक उपाय सोचा, उसने देखा की घड़ा के बगल में कुछ छोटे – छोटे कंकड़ के टुकडे गिरे हुए है।



कौआ एक कंकड़ अपने चोंच से उठाता और घड़ा में डाल देता, ऐसे ही उसने बहुत सारा कंकड़ उठाया और घड़े में डाल दिया।
कंकड़ के कारण पानी उपर आ गया। कौए ने जी भर पानी पिया और ख़ुशी ख़ुशी उड़ गया।
दोस्तों इस कहानी से हमें शिक्षा मिलती है कि कठिन समय मैं बुद्धी से कम लेना चाहिए, जैसा उस कौवा ने लिया।
ये कहानियाँ भी पढ़ें – 

About bhartihindi

दोस्तों BhartiHindi.com अपने पाठकों के लिए हिंदी कहानी, कविता, रोचक जानकारी और अन्य लेख उपलब्ध कराती हैं। अगर आप हमारे सभी लेख सबसे पहले पढ़ना चाहते है तो हमारे Facebook page को Like करके भी हमसे जुड़ सकते हैं , जिससे आपको हमारे सभी नए लेख की जानकारी मिलती रहेगी....धन्यवाद।

View all posts by bhartihindi →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *