Kids story with moral – घमंडी शेर और ख़रगोश


एक जंगल में एक शेर रहता था | वह बहुत ही घमंडी था | वह जंगल के जानवरों को मार देता था |

यह देख जंगल के जानवर ख़रगोश , हिरन , सियार  सब बहुत परेशान थे |

एक दिन उन्होंने जंगल में सभा बुलायी जंगल के सभी जानवर आये |

this is an image of kids story wich reprasent elephant and animanls
story image

सभी ने यह विचार किया हम रोज एक जानवर शेर की गुफा के पास उसका भोजन बनने के लिए चले जाएंगे और शेर जंगल के बाकि जानवरों को नहीं मारेगा |

यह प्रस्ताव लेकर सियार गया शेर की गुफा के पास गया

सियार ने शेर को कहा – महाराज हम जानवरों ने यह विचार किया हैं की हम रोज एक जानवर आप का भोजन बनने के लिए आ जाया करेंगे आप जंगल के दुसरे जानवरों को मत मारना |

शेर बहुत आलसी था उसने सोचा की ठीक हैं यहाँ बैठे – बैठे मुझे जानवर मिल जाया करेगा |

अब रोज एक जानवर शेर की गुफा के पास जाता और शेर उसे अपना भोजन बना लेता |

एक दिन ख़रगोश का नंबर आया | ख़रगोश ने एक उपाय सोचा , वह जानबूझ कर कुछ देर से गया |

जब वह शेर के पास पहुँचा शेर ने कहा क्यों आज देर क्यों हो गयी | मुझे गुस्सा आ जाता तो पता हैं क्या होता |



ख़रगोश ने कहा महाराज में तो आप के पास आ रहा था , लेकिन आज कल जंगल में एक दूसरा शेर आ गया हैं

 वो खुद को जंगल का राजा कहता हैं उसने मुझे आप के पास आने से रोका था |

 यह सुन शेर को गुस्सा आ गया वह बोला कहा हैं वह दूसरा शेर मुझे दिखाओ में उसे मर डालूँगा |

ख़रगोश के साथ शेर चल दिया |

this is an image of lion
kids story image

ख़रगोश एक नदी के पास गया और कहा महाराज वो दूसरा शेर यहाँ रहता हैं |

शेर ने देखा तो उसे पानी में दूसरा शेर दिखा , उसने बिना कुछ सोचे छलांग लगा दी |

ख़रगोश बोला मुर्ख तुम्हें इतना भी पता नही की पानी में अपना ही चेहरा दिखता हैं |

this is rabbit image
rabbit image

नदी ने पानी ज्यादा था शेर डूबकर मर गया |

ख़रगोश ख़ुशी – ख़ुशी जंगल गया और यह कहानी सभी जानवरों को सुनायी |

शिक्षा – बुद्धि बल से ज्यादा ताकतवर होती हैं |

About bhartihindi

दोस्तों BhartiHindi.com अपने पाठकों के लिए हिंदी कहानी, कविता, रोचक जानकारी और अन्य लेख उपलब्ध कराती हैं। अगर आप हमारे सभी लेख सबसे पहले पढ़ना चाहते है तो हमारे Facebook page को Like करके भी हमसे जुड़ सकते हैं , जिससे आपको हमारे सभी नए लेख की जानकारी मिलती रहेगी....धन्यवाद।

View all posts by bhartihindi →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *